पान के पत्ते खाने के फायदे, औषधीय गुण, लाभ और नुकसान | Betel Leaf Benefits and Side Effects in Hindi

Join Our WhatsApp Channel Join Now
Join Our Telegram Channel Join Now

Betel Leaf Benefits and Side Effects:- आइये दोस्तों आज के इस Blogs में हम पान के पत्ते के खाने के फायदों के बारे में जानते है। वैसे तो Paan ke Patton ka Fayda खाने के साथ-साथ धार्मिक कार्यो और पूजा में भी Use किया जाता है। यह पत्ता तांबूली या नागवल्ली नामक बेल का पत्ता होता है। इस पत्ते की तासीर बहुत गर्म होती है। इस पत्ते का वानस्पतिक नाम पाइपर बीटल है। वास्तु के अनुसार पान का पौधा घर में लगाने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। वहीं प्रतिदिन पान के पत्ते का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। बरसात के दिनों में पान का पौधा लगाने से ये साल भर हरा भरा रहता है। हिन्दू मान्यताओं के मुताबिक पान के पत्तों को बहुत शुभ माना गया है। पान के पत्ते का उपयोग शरीर की कई परेशानियों से निजात पाने के लिए किया जा सकता है। आज के लाइफस्टल के दौर में इस लेख में हम पान खाने के फायदे और नुकसान बारे में बत्ताते है। replica richard mille

Betel Leaf Benefits and Side Effects in Hindi

Good Health Capsule खाने के फायदे और नुकसान, उपयोग

पान के पत्ते में औषधीय गुण:-

पान के पत्तों में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फॉस्फोरस, लौह, आयोडीन और पोटैशियम जैसे तत्व भी पाए जाते हैं। पान भारतीय संस्कृति का हिस्सा होने साथ-साथ इसे प्राचीनकाल से ही आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी के रूप में जाना जाता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटीडायबिटिक, एंटी इंफ्लेमेटरी, एंटी-कैंसर, एंटी-अल्सर जैसे औषधीय गुण पाए जाते हैं।

पान के पत्तों के फायदे:-Betel Leaf Benefits

दोस्तों आज के समय में हर कोई व्यक्ति पान खाने का शौकीन हो रहा है। परतुं कुछ लोगो को ही पता है, इसके खाने के फायदे भी होते है। आइये दोस्तों जानते है  पान खाने के फायदे और साथ ही किन किन बीमारियों में फायदेमंद होता है।

  • मधुमेह की रोकथाम के लिए पान खाने के फायदे:- मधुमेह यानि डायबिटीज के रोगियों के लिए पान के पत्ते का सेवन करना काफी लाभदायक साबित होता है। क्योंकि इसमें एंटी-हाइपरग्लाइसेमिक औषधीय गुण पाया जाता है। जो ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करता है। तथा डायबिटीज-2 की स्टेप में डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन किया जा सकता है।
  • खांसी से मिलता है छुटकारा:- पान के पत्तो का सेवन करने से ख़ासी व गले में खरास जल्द ही ठीक हो जाती है। क्योकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-माइक्रोबियल जैसे गुण मौजूद होते है।
  • मुंह के छालों के लिए:- अक्सर कहा जाता है कि पान के पत्ते का सेवन गुलकंद के साथ करने से मुँह के छाले जल्द ही ठीक हो जाते है। और पान पत्ते में कई ऐसे तत्व मौजूद होते है, जो बैक्टरिया के प्रभाव को कम करते है।
  • यौन क्षमता को बढ़ाने में मदद करे पान के पत्ते:- रोजाना एक पान का पत्ता खाने से शरीर में टेस्टोस्टेरोन की कमी नहीं होती है और जननांगों में रक्त प्रवाह में भी सुधार होता है। इसलिए कहा जाता ही की यौन क्षमता को बढ़ाने में पान के पत्ते काफी गुणकारी होते है।
  • ब्रेस्ट स्वेलिंग से मिलती है निजात:- जब कोई स्त्री पहली बार माँ बनती है। तो उन्हें ब्रेस्ट स्वेलिंग की समस्या का सामना करना पड़ता है। इससे वे अपने बच्चे को स्तनपान नहीं करवा पाती है। इसके लिए पान के पत्तो को हल्का सा गर्म करके ब्रेस्ट पर बांधने से स्तन की सूजन कम हो जाती है। और स्वेलिंग की समस्या में आराम मिलता है।
  • पान के पत्ते दिलाएंगे गैस की समस्या से निजात:- अक्सर लोगो को गैस की समस्या रहती है। पान के पत्तों में गैस्ट्रो प्रोटेक्टिव गुण पाया जाता है, जो गैस की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है। इसलिए गैस की समस्या से जूझ रहे लोगो को पान के पत्तों का सेवन अवश्य करना चाहिए।
  • बच्चों को हो सर्दी तो भी मदद करे पान:- बच्चो को ज्यादा सर्दी होने पर पान के पत्तो को हल्का गर्म करके उसके ऊपर सरसो का तेल लगाकर बच्चो के सीने पर बांधने से सर्दी और खासी में आराम मिलता है।
  • घाव भी जल्दी भर देता है:– हाथ और पैर पर चोट लगने पर पान के पत्ते बांधने से घाव जल्दी भरता है। चोट ठीक करने के लिए भी पान के पत्ते कारगर होते हैं।
  • भूख को बढ़ाने के लिए:- पान के पत्ते चबाने से भूख बेहतर हो सकती है। क्योकि पान चबाने से मुँह में जो लार बनती है, वह हमारे पाचन शक्ति के लिए काफी लाभदायक होती है। और साथ ही भूख भी बढ़ती है।
  • ​वजन कम करने के लिए इस्तेमाल करें पान के पत्ते:- पान के पत्तो में ऑक्सीडेशन प्रक्रिया को बढ़ाने का गुण मौजूद होता है और बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करता है। अतः वजन को कंट्रोल करने के लिए पान के पत्तो का सेवन करना चाहिए।
  • सिर दर्द में राहत:- सिर दर्द में राहत पाने के लिए पान के पत्ते काफी फायदेमंद होते है।इतना ही नहीं पान का पत्ता माइग्रेन से भी राहत दिलाने में कुछ हद तक मदद कर सकता है।

ज्यादा पान खाना नुकसानदेह हो सकता है:- दोस्तों पान खाने से क्या क्या फायदे होते है। ये सब अपने ऊपर लिखे गए ब्लोग्स में आप जान चुके है। लेकिन इसके अधिक सेवन से हमारे शरीर में कुछ  नुकसान भी हो सकते है, पान की लत आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। तो चलिए जान लेते हैं कि पान खाने के नुकसान क्या हो सकते हैं:-

  • प्रेग्नेंट महिलाओं के हानिकारक:- पान के पत्ते का सेवन करना प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए बहुत नुकसानदायक साबित होता है। क्योकि इससे बच्चे का विकास सही से नहीं हो पाता है जिसके कारण बच्चे की सेहत को नुकसान पहुंच सकता है।
  • मसूड़ों में होता है दर्द:- देखिये दोस्तों पान खाने से हमारे मुँह में बदबू आना बंद हो जाती है। परन्तु अगर लिमिट से ज्यादा पान के पत्ते का सेवन किया जाये तो यह हमारे मसूड़ों की हानि पहुंचते है। क्योकि लगातार पान के पत्ते चबाने से मसूड़े कट जाते है और इनमे सूजन पैदा हो जाती है।
  • पेट के लिए हानि:- अधिक मात्रा में पान के पत्ते का सेवन करने से हमारे पेट में दर्द होता है। इसके साथ ही खट्टी डकार आना , मतली और उल्टी जैसी समस्या होना, दस्त लगना आदि अनेक बीमारिया भी हो सकती है।
  • एलर्जी:- जिन लोगो को पान के पत्ते खाने से एलर्जी होती है। उन्हें इसके सेवन से दूर रहना चाहिए।
  • बढ़ता है BP:- जो लोग पान का अधिक सेवन करते हैं उनका थायराइड हार्मोन भी ऊपर-नीचे होता रहता है। जिसके कारण हमारा ब्लड प्रेसर घटता या बड़ता रहता है। इसलिए पान का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए।

ध्यान देने योग्य बात:-

दोस्तों अगर आप पान का सेवन करते है या खाना शुरू करना चाहते है। तो हमे स्वछता का भी ध्यान रखना है। पान के पिक को हमेसा कूड़ेदान में ही थूकना चाहिए। किसी दीवार या मार्ग और सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकना चाहिए। क्योकि गंदगी के साथ साथ हमारे चारो और संक्रमण फेल सकता है। और कई बीमारी पनप जाती है।

पान (Betel Leaf) के पत्ते का उपयोग:-

पान के पत्तों का उपयोग अलग-अलग स्थानों पर अलग-अलग तरीके से होता है। इसके साथ ही इसका उपयोग टोने-टोटके में भी किया जाता है। तो आइये जानते है इसके उपयोग।

  • कई लोग पान के पत्ते का उपयोग शहद, गुलकंद, कत्था, चूना, जर्दा के साथ खाने के लिए करते है।
  • कई लोग पान के पत्ते का उपयोग काढ़ा बनाने में भी करते है।
  • पान में कत्था, सौंफ, गुलकंद, गुलकंद और खोपरे को डालकर कई लोग इसे मंगलवार या शनिवार के दिन हनुमानजी को पान का बीड़ा अर्पित करने किये इसका उपयोग करते है।
  • कई लोग पान के पत्ते का उपयोग नजर दोष दूर करने में भी करते है।

अस्वीकरण:- दोस्तों इस आर्टिकल में दी गई सभी जानकारी इस सामान्य जानकारी है। यदि आपको पहले से कोई बमरी है तो सही जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top