गजाननं भूत गणादि सेवितं मंत्र और उसका अर्थ – Ganesh Mantra-Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam Hindi & English

Ganesh Mantra-Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam

गजाननं भूत गणादि सेवितं,
कपित्थ जम्बू फल चारू भक्षणम् ।
उमासुतं शोक विनाशकारकम्,
नमामि विघ्नेश्वर पाद पंकजम् ॥
gajananam bhoota ganadhi sevitam

Ganesh Mantra Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam मंत्र का अर्थ:

Join Our WhatsApp Channel Join Now
Join Our Telegram Channel Join Now

Gajaananam:- गज के समान मुख वाले
Bhuuta Gannaadi: –भूत गण (गणादि)
Sevitam:- पूजा करते हैं।
Kapittha:- कपिता फल को ग्रहण करने वाले।
Jambuu:- जाम्बू फल को चाव से खाने वाले।
Phala:-फल
Saara Bhakssitam:- चाव से खाने वाले।
Umaa-Sutam: – माता पार्वती (उमा) के पुत्र (सुत ).
Shoka:- शोक (दुःख क्लेश)
Vinaasha-Kaarkam:- विनाश करने वाले।
Namaami:- आपके चरणों में नमन है।
Vighneshvara:- विघ्न का विनाश करने वाले।
Paada-Pangkajam:- जिसके चरण कमल के समान हैं।

Ganesh matra

मन्त्र का हिंदी मीनिंग : गजानन (हाथी के जैसे सर वाले) के मुख वाले, भूत गणों के द्वारा सेवा किए जाने वाले, आप कपिथा (वुड एप्पल) जाम्बु /जामुन (रोज एप्पल) को ग्रहण (चाव से खाने वाले ) करने वाले, जो उमा के पुत्र हैं। जिनके द्वारा समस्त दुखो को समाप्त किया जाता हैं। मैं विघ्न को दूर करने वाले श्री गजानन जी को, जिनके चरण कमल के समान हैं, नमन करता हूँ। भूतगण भगवान शिव के भक्त हैं। शिव पुत्र होने के कारण भूतगण को गणेश जी के भी भक्त कहा गया है। श्री गजानन जी को कैथ तथा जामुन के फल अत्यंत ही प्रिय हैं।

गजाननं भूतगणादि सेवितं
कपित्थजम्बूफलसार भक्षितम् ।
उमासुतं शोकविनाशकारणं
नमामि विघ्नेश्वर पादपङ्कजम् ॥

Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam Mantra in English

Gajananam Bhoota Ganadi Sevitam,
Kapittha Jammbu Phala Charu Bhakshanam ।
Umasutam Shoka Vinasha karakam,
Namami Vighneshwara Pada Pankajam ॥

1 thought on “गजाननं भूत गणादि सेवितं मंत्र और उसका अर्थ – Ganesh Mantra-Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam Hindi & English”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top