विद्यां ददाति विनयं | Vidya Dadati Vinayam

Join Our WhatsApp Channel Join Now
Join Our Telegram Channel Join Now

Vidya Dadati Vinayam:- विद्या ददाति विनयम एक संस्कृत श्लोक मात्र नहीं है, ये हमारे देश और हमारे ग्रंथो का परिचय भी है। हमारा देश बहुत सारे रीती रिवाजों के लिए जाना जाता है। भारत देश ऋषिमुनियों का देश है। यह देश ऋषि तथा देव ज्ञान पर आधारित है तथा यहाँ जीवन कला पद्धति भी धर्मशास्त्र ज्ञान के नीवं पर आधारित है।

Vidya Dadati Vinayam

|| Vidya Dadati Vinayam ||

विद्यां ददाति विनयं,
विनयाद् याति पात्रताम् ।
पात्रत्वात् धनमाप्नोति,
धनात् धर्मं ततः सुखम् ॥

हिन्दी अर्थ:
विद्या विनय देती है, विनय से पात्रता आती है, पात्रता से धन आता है, धन से धर्म होता है, और धर्म से सुख प्राप्त होता है।

Vidya Dadati Vinayam,
Vinaya Dadati Paatrataam।
Paatratva Dhanamaapnoti,
Dhanaat Dharmam Tatah Sukham॥

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top