Mantra

करचरण कृतं वा – क्षमा मंत्र | Karacharana Kritam Vaa

Karacharana Kritam Vaa:- करचरण कृतं वा का जाप करने से भगवान् शिव प्रसन्न होते है और अपनी कृपा दृष्टि बनाये रखते है और भक्तो को सुख समृदि की प्राप्ति होती है। || Karacharana Kritam Vaa || करचरण कृतं वाक्कायजं कर्मजं वा ।श्रवणनयनजं वा मानसं वापराधं ।विहितमविहितं वा सर्वमेतत्क्षमस्व ।जय जय करुणाब्धे श्रीमहादेव शम्भो ॥यह कराचरण […]

करचरण कृतं वा – क्षमा मंत्र | Karacharana Kritam Vaa Read More »

गणनायकाय गणदेवताय गणाध्यक्षाय धीमहि | Gananaykay Gandevatay

Gananaykay Gandevatay:- हम गणेशजी की पूजा घर पर भी करते है घर पर इनके नाम के पाठ भी करवाते है। और भगवान गणेश का मंत्र सभी भक्तों के लिए अमृत जैसा काम करता है इसीलिए हमें इस मंत्र का उच्चारण अपने घर में अवश्य करना चाहिए। || Gananaykay Gandevatay || गणनायकाय गणदेवताय गणाध्यक्षाय धीमहि ।गुणशरीराय

गणनायकाय गणदेवताय गणाध्यक्षाय धीमहि | Gananaykay Gandevatay Read More »

Vakratunda Mahakaya Mantra: वक्रतुण्ड महाकाय – गणेश मंत्र

Vakratunda Mahakaya Mantra: हिन्दू धर्म में किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले गणेश जी का स्मरण किया जाता है जिसके साथ मंत्र का उच्चारण किया जाता है जो की भगवान् श्री गणेश जी को याद करने का प्रतीक माना जाता है, क्योंकि Vakratunda Mahakaya Mantra मंत्र के द्वारा सबसे पहले पूजे जाने वाले

Vakratunda Mahakaya Mantra: वक्रतुण्ड महाकाय – गणेश मंत्र Read More »

गजाननं भूत गणादि सेवितं मंत्र और उसका अर्थ – Ganesh Mantra-Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam Hindi & English

Ganesh Mantra-Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam गजाननं भूत गणादि सेवितं,कपित्थ जम्बू फल चारू भक्षणम् ।उमासुतं शोक विनाशकारकम्,नमामि विघ्नेश्वर पाद पंकजम् ॥ gajananam bhoota ganadhi sevitam Ganesh Mantra Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam मंत्र का अर्थ: Gajaananam:- गज के समान मुख वालेBhuuta Gannaadi: –भूत गण (गणादि)Sevitam:- पूजा करते हैं।Kapittha:- कपिता फल को ग्रहण करने वाले।Jambuu:- जाम्बू फल को

गजाननं भूत गणादि सेवितं मंत्र और उसका अर्थ – Ganesh Mantra-Gajananam Bhoota Ganadhi Sevitam Hindi & English Read More »

Ganesha Anga Puja Mantra | गणेश अंग पूजा मंत्र

Ganesha Anga Puja Mantra:- सनातन पूजा पद्धति में अंग पूजा किसी भी देव पूजा अनुष्ठान का अभिन्न अंग है। श्री गणेश पूजा के दौरान, भक्त भगवान गणेश को प्रसन्न करने के लिए इन मंत्रों का प्रयोग अंग पूजा के लिए करते हैं। गणेशजी की पूजा सायंकाल में की जाती है। यदि आपने दिन में ही

Ganesha Anga Puja Mantra | गणेश अंग पूजा मंत्र Read More »

नामावलि: श्री गणेश अष्टोत्तर नामावलि 108 Shri Ganesh Ji

Shri Ganesh Ji:- श्री गणेश, गजानन, लंबोदर, विनायक के कई हजार नाम हैं। लेकिन उन सभी का वाचन संभव नहीं अत: भक्त अपनी सुविधा से 108 नामों का पाठ कर सकते हैं। यह 108 गजानन नाम श्री गणेश को प्रसन्न करते हैं। गजानन महाराज के 108 नामों को गणेश नामावली कहते हैं। इस नामावली का

नामावलि: श्री गणेश अष्टोत्तर नामावलि 108 Shri Ganesh Ji Read More »

संकटनाशन गणेश स्तोत्र – प्रणम्य शिरसा देव गौरीपुत्रं विनायकम | Shri Sankat Nashan Ganesh Stotra

Shri Sankat Nashan Ganesh Stotra:- नारद पुराण से उद्धरित श्री गणेश का लोकप्रिय संकटनाशन स्तोत्र, मुनि श्रेष्ठ श्री नारद जी द्वारा कहा गया है। इस स्तोत्र के पाठ से व्यक्ति के जीवन के संकट मिट जाते हैं। अतः इस स्तोत्र को श्री संकटनाशन स्तोत्र अथवा संकटनाशन गणपति स्तोत्र के नाम से भी जाना जाता है।

संकटनाशन गणेश स्तोत्र – प्रणम्य शिरसा देव गौरीपुत्रं विनायकम | Shri Sankat Nashan Ganesh Stotra Read More »

हरिद्रा गणेश कवचम् Haridra Ganesh Kavach)

Haridra Ganesh Kavach:- माता के दशों महाविद्याओं रूपों के अलग-अलग भैरव तथा गणेश हैं। हरिद्रा गणपति मां बगलामुखी के अंग देवता है। इसलिए जो साधक बगलामुखी की आराधना करते हैं , उन्हें हरिद्रा गणपति की साधना , पूजा अवश्य करनी चाहिए। इनकी साधना करने से शत्रु का हृदय द्रवित होकर साधक के वशीभूत हो जाता

हरिद्रा गणेश कवचम् Haridra Ganesh Kavach) Read More »

ऋणहर्ता गणेश स्तोत्र | Rin Harta Shri Ganesh Stotra

Rin Harta Shri Ganesh Stotra:- ऋणहर्ता गणेश जी की पूजा करते है तो घर में सुख शांति रहती है और पैसो की कमी नहीं रहती है। जिस किसी पर कर्ज है और वह कर्ज से निकलना चाहता है तो कर्जदार व्यक्ति को ऋणहर्ता गणपति स्तोत्र का नियमित पाठ करने से भक्त को कर्ज चुकाने मे

ऋणहर्ता गणेश स्तोत्र | Rin Harta Shri Ganesh Stotra Read More »

श्री गणेशपञ्चरत्नम् मुदाकरात्तमोदकं -Shri Ganesha Pancharatnam – Mudakaratta Modakam in Hindi & English

Shri Ganesha Pancharatnam:- श्री गणेश पंचरत्न स्तोत्र के लाभ धर्मशास्त्रों के श्री गणेश पंचरत्न स्तोत्र का पाठ हर मनोवृत्तिना स्तोत्र है। महा गणेश पंचरत्नम के लाभ महा गणेश पंचरत्नम का नियमित पाठ करने से मन को शांति मिलती है और आपके जीवन से सभी बुराई दूर होती है और आप स्वस्थ, धनवान और समृद्ध बनते

श्री गणेशपञ्चरत्नम् मुदाकरात्तमोदकं -Shri Ganesha Pancharatnam – Mudakaratta Modakam in Hindi & English Read More »

Scroll to Top