तद् (वह) शब्द रूप

Tad Pulling Shabd Roop in Sanskrit | तद् (वह) शब्द रूप – सर्वनाम 

दोस्तों आज हमने तद् (वह) शब्द के रूप लिखे है। संस्कृत भाषा में वाक्य बनाने के लिए शब्दों के रूप बनाने पड़ते है अतः वाक्य के निर्माण के लिए एक शब्द के अनेक रूप होने आवश्यक है। तद् (वह) का शब्द रूप क्या होता है जैसा कि बहुत से लोग नहीं जानते होंगे कि Tad […]

Tad Pulling Shabd Roop in Sanskrit | तद् (वह) शब्द रूप – सर्वनाम  Read More »

Tad Napunsakling Shabd Roop in Sanskrit | तद् (वह) शब्द रूप – सर्वनाम 

तद् (वह) शब्द सर्वनाम संज्ञा शब्द है। इसके रूप तीनों लिंगों में होते हैं। अक्सर कक्षा 6,7,8,9,10 के विद्यार्थियों को तद् (वह) शब्द रूप के बारे में पूछा जाता है।  यहाँ हम Tad Napunsakling Shabd Roop in Sanskrit में रूप दें रहें हैं। सर्व (सभी) नामों (संज्ञा-शब्दों) के स्थान पर प्रयुक्त होने वाले शब्दों को

Tad Napunsakling Shabd Roop in Sanskrit | तद् (वह) शब्द रूप – सर्वनाम  Read More »

Tad Striling Shabd Roop in Sanskrit | तद् (वह) शब्द रूप – सर्वनाम 

Tad Striling Shabd Roop in Sanskrit  व्याकरण में ज्यादातर इस्तेमाल या पूछा जाने वाला शब्द रूप हैं। आप किसी कक्षा जैसे कि 6,7,8,9,10 के विद्यार्थियों को तद् (वह) शब्द रूप के बारे में पूछा जाता है। तो आपकों इन शब्द रूप को याद करना अति अनिवार्य हैं। तद् (वह) शब्द रूप काफी ज्यादा पूछा जाने

Tad Striling Shabd Roop in Sanskrit | तद् (वह) शब्द रूप – सर्वनाम  Read More »

Scroll to Top