Jan Dhatu Roop in Sanskrit | दिवादिगण तथा आत्मनेपदी धातु रूप

नमस्कार दोस्तों, हम यहाँ पर आपके लिए संस्कृत धातु रूप से बने Jan Dhatu Roop in Sanskrit को लेकर प्रस्तुत हुए है। संस्कृत भाषा में वाक्य का निर्माण करने के लिए धातु के रूप बनते है। वाक्य के लिए एक धातु के कई रूप हो सकते है। जन् धातु का अर्थ है ‘उत्पन्न होना, to […]

Jan Dhatu Roop in Sanskrit | दिवादिगण तथा आत्मनेपदी धातु रूप Read More »