Ish Dhatu Roop in Sanskrit | तुदादिगण तथा परस्मैपदी धातु रूप

नमस्कार दोस्तों, हम यहाँ पर आपके लिए संस्कृत धातु रूप से बने Ish Dhatu Roop in Sanskrit को लेकर प्रस्तुत हुए है। संस्कृत भाषा में वाक्य का निर्माण करने के लिए धातु के रूप बनते है। वाक्य के लिए एक धातु के कई रूप हो सकते है। इष् धातु का अर्थ है ‘इच्छा करना, to wish’। यह तुदादिगण तथा परस्मैपदी धातु है। सभी तुदादिगण धातु के धातु रूप इसी प्रकार बनते है जैसे- क्षिप्, प्रछ्/प्रच्‍छ्, स्पृश्, तुद्, मिल्, मुच्/मुञ्च्, मृ, विश्, सिच्/सिञ्च आदि। इष् धातु के रूप संस्कृत में सभी पुरुष एवं वचनों में नीचे दिए गए हैं।

Ish Dhatu Roop in Sanskrit

1 . लट् लकार (वर्तमान काल, Present Tense)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषइच्छतिइच्छतःइच्छन्ति
मध्यम पुरुषइच्छसिइच्छथःइच्छथ
उत्तम पुरुषइच्छामिइच्छावःइच्छामः
Ish Dhatu Roop

2. लृट् लकार (भविष्यत काल, Future Tense)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषएषिष्यतिएषिष्यत:एषिष्यन्ति
मध्यम पुरुषएषिष्यसिएषिष्यथ:एषिष्यथ
उत्तम पुरुषएषिष्यामिएषिष्याव:एषिष्याम:
Ish Dhatu Roop

3. लङ् लकार (भूतकाल, Past Tense)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषऐच्छत्ऐच्छताम्ऐच्छन्
मध्यम पुरुषऐच्छःऐच्छतम्ऐच्छत
उत्तम पुरुषऐच्छम्ऐच्छावऐच्छाम
Ish Dhatu Roop

4. लोट् लकार (आज्ञा के अर्थ में, Imperative Tense)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषइच्छतुइच्छताम्इच्छन्तु
मध्यम पुरुषइच्छइच्छतम्इच्छत
उत्तम पुरुषइच्छानिइच्छावइच्छाम

5. विधिलिङ् लकार (चाहिए के अर्थ में, Potential Mood)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषइच्छेत्इच्छेताम्इच्छेयुः
मध्यम पुरुषइच्छेःइच्छेतम्इच्छेत
उत्तम पुरुषइच्छेयम्इच्छेवइच्छेम

6. लुङ् लकार (सामान्य भूतकाल, Perfect Tense)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषऐषीत्ऐषिष्टाम्ऐषिषुः
मध्यम पुरुषऐषीःऐषिष्टम्ऐषिष्ट
उत्तम पुरुषऐषिषम्ऐषिष्वऐषिष्म

7. लिट् लकार (परोक्ष भूतकाल, Past Perfect Tense)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषइयेषईषतुःईषुः
मध्यम पुरुषइयेषिथईषथुःईष
उत्तम पुरुषइयेषईषिवईषिम

8. लुट् लकार (अनद्यतन भविष्य काल, First Future Tense of Periphrastic)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषएषिताएषितारौएषितार:
मध्यम पुरुषएषितासिएषितास्थ:एषितास्थ
उत्तम पुरुषएषितास्मिएषितास्व:एषितास्म:

9. आशिर्लिङ् लकार (आशीर्वाद हेतु, Benedictive Mood)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषइष्यात्इष्यास्ताम्इष्यासुः
मध्यम पुरुषइष्याःइष्यास्तम्इष्यास्त
उत्तम पुरुषइष्यासम्इष्यास्वइष्यास्म

10. लृङ् लकार (हेतुहेतुमद् भविष्य काल, Conditional Mood)

पुरुषएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथम पुरुषऐषिष्यत्ऐषिष्यताम्ऐषिष्यन्
मध्यम पुरुषऐषिष्यःऐषिष्यतम्ऐषिष्यत
उत्तम पुरुषऐषिष्यम्ऐषिष्यावऐषिष्याम

आपको यह लेख (पोस्ट) कैंसा लगा? हमें कमेंट के माध्यम से अवश्य बताएँ। gk-help.com पर शीघ्र ही आपके कमेंट का जवाब देगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top