पत्नीं मनोरमां देहि | Patni Manoraman Dehi

Patni Manoraman Dehi:- दुर्गा सप्तशती के इस मंत्र के जाप से सुन्दर, सुलोचना, सभी गुणों से युक्त, मनचाही और घर को बसाने वाली पत्नी मिलती है। इस मंत्र का जाप कुंवारे व्यक्ति को ही करना चाहिए।

Patni Manoraman Dehi

|| Patni Manoraman Dehi ||

पत्नीं मनोरमां देहि मनोवृत्तानु सारिणीम् ।
तारिणींदुर्गसं सारसागरस्य कुलोद्भवाम् ॥
– दुर्गा सप्तशती

पत्नी मनोरमा देहि मंत्र का जाप कैसे करें?

1. दुर्गा सप्तशती सिद्ध सम्पुट मंत्र
2. संतान गोपाल स्तोत्रम्
3. श्री गणेश मंत्र- वक्रतुण्ड महाकाय
4. गणेश आरती
5. जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी: आरती
6. दुर्गा चालीसा
7. माता के भजन
8. मानवता भीतर के संस्कारों से पनपती है: प्रेरक कहानी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top